Purification, illumination and perfection, the three great stages of the ascent

4-day Yogic Healing For Manpower

4-day Yogic Healing For Manpower

Greetings from the Manthanhub team!

Manthanhub is dedicated to bringing true knowledge and making the youth powerful so they can become real heroes in their lives. This big task is though difficult but possible with the blessings of the Almighty and our Gurus and saints.
This is a dark world. The devil of PMO (Porn, masturbation & Orgasm) has crippled the minds of the youth population that have weakened them both physically and mentally. There are not just thousands but millions of nerve-wracking stories of youth regarding the weakness of private organs, poor control, less timing, automatic semen emission on looking at the opposite sex, thinking and dreaming about them in sleep. They are not able to stop thinking about it in their minds and fail repeatedly.


They desperately try all weird things, spend thousands on treatment by doctors, sexologists, babas, browse the internet for solutions but misguided and looted of money but no benefit, and fail again and again.


Youth try many things and medicines on their organ to make them strong. Excessive semen loss actually causes loss of vital “life-energy” that drives the functioning of each cell and organ of the body. That is why not just private organs, other body systems become weak like nervous system breakdown, heart problems, poor digestion, etc. Most of these medicines are very strong that cannot be digested by weak organ systems. The result is they cause more side effects rather than benefits. Till you try at the physical level only with oils and medicines alone, it is not going to work. Because as it is rightly said that it is all in the mind. It is true that addiction to PMO makes the nerves and blood vessels and muscles weak, but the loss of “life energy” takes away the power of the mind to heal which is responsible for weakness and other problems. Re-training and strengthening the mind in the right direction is most important in the treatment of these problems. This is also known as BRAIN REWIRE.

Manthanhub is organizing a 4-day Yogic Healing Mantra Session to cover both physical and mental approaches for the treatment of these problems. The sessions will cover very effective techniques and tips to make the private organ nerves, muscles, and blood vessels strong and also make the mind power to overcome these problems. This dual approach is very essential to achieve sure-shot success if done sincerely. If any of these two are missing, success cannot be gained. Then there will be a re-check session after one month to monitor the progress of participants.
A nominal charge is kept so that only serious and real sufferers join this precious healing session. There are limited seats available on a first come first serve basis only. No late requests will be entertained.

DAY 1: Medical Concepts Of Sex Organ22 Nov 21
DAY 2: Yogic techniques & Mantra Healing23 Nov 21
DAY 3: Q & A session24 Nov 21
DAY 4: Re-Check session (After One Month) – 26 Dec 21

Instructions

  1. Please watch our playlist – Manthanhub Diet for improve your health.

2. No non-veg food, liquor throughout the session.

3. Please watch some free sessions on www.manthanhub.com

4. Please learn Nadi Shodhan Pranayama, Bhastrika and Tribandh Pranayama before joining.

5. Please Install the zoom App test the communication with your friends before joining.

6. Please join the telegram group after registration that is mandatory for further instructions.

7. If you are not getting any links after registration, please send a message @Vishwasewak on Telegram

Session Completed

मंथनहब टीम की ओर से बधाई!

मंथनहब सच्चा ज्ञान लाने और युवाओं को शक्तिशाली बनाने के लिए समर्पित है ताकि वे अपने जीवन में वास्तविक नायक बन सकें। यह बड़ा कार्य यद्यपि कठिन है, लेकिन सर्वशक्तिमान और हमारे गुरुओं और संतों के आशीर्वाद से संभव है।

यह अंधेरी दुनिया है। PMO के शैतान (पोर्न, हस्तमैथुन और संभोग) ने युवा आबादी के दिमाग को पंगु बना दिया है जिसने उन्हें शारीरिक और मानसिक दोनों रूप से कमजोर कर दिया है। गुप्तांग की कमजोरी, खराब नियंत्रण, कम समय, विपरीत लिंग को देखने पर स्वचालित वीर्य उत्सर्जन, नींद में उनके बारे में सोचने और सपने देखने के बारे में युवाओं की न केवल हजारों बल्कि लाखों नर्वस कहानियां हैं। वे अपने मन में इसके बारे में सोचना बंद नहीं कर पाते हैं और बार-बार असफल होते हैं।

वे अजीब चीजों से ठीक होने की कोशिश करते हैं, डॉक्टरों, सेक्सोलॉजिस्ट, बाबाओं के इलाज पर हजारों खर्च करते हैं, समाधान के लिए इंटरनेट ब्राउज़ करते हैं लेकिन गुमराह होते हैं और पैसे लुटाते हैं लेकिन कोई फायदा नहीं होता है और बार-बार असफल होते हैं।
युवा अपने अंग को मजबूत बनाने के लिए कई तरह की चीजें और दवाएं आजमाते हैं। अत्यधिक वीर्य हानि वास्तव में महत्वपूर्ण “जीवन-ऊर्जा” के नुकसान का कारण बनती है जो शरीर के प्रत्येक कोशिका और अंग के कामकाज को संचालित करती है। इसलिए केवल निजी अंग ही नहीं, शरीर की अन्य प्रणालियां कमजोर हो जाती हैं जैसे तंत्रिका तंत्र का टूटना, हृदय की समस्याएं, खराब पाचन आदि। अधिकांश दवाएं बहुत स्ट्रॉंग होती हैं जिन्हें कमजोर अंग प्रणालियों द्वारा पचाया नहीं जा सकता है। नतीजा यह है कि वे लाभ के बजाय अधिक दुष्प्रभाव पैदा करते हैं।
जब तक आप केवल तेल और दवाओं से ही भौतिक स्तर पर प्रयास करेंगे, यह काम नहीं करेगा। क्योंकि जैसा कि ठीक ही कहा गया है कि यह सब दिमाग में होता है। यह सच है कि PMO की लत गुप्तांग की नसों और रक्त वाहिकाओं और मांसपेशियों को कमजोर कर देती है, लेकिन “जीवन ऊर्जा” की कमी से मन की हेलिंग करने की शक्ति समाप्त हो जाती है। इन समस्याओं के उपचार में मन को सही दिशा में पुन: प्रशिक्षित और मजबूत करना सबसे महत्वपूर्ण है। इसे ब्रेन रिवायर (Brain rewire) के नाम से भी जाना जाता है।

मंथनहब इन समस्याओं के इलाज के लिए शारीरिक और मानसिक दोनों दृष्टिकोणों को कवर करने के लिए 4 दिवसीय योगिक उपचार मंत्र सत्र का आयोजन कर रहा है। सत्रों में निजी अंग की नसों, मांसपेशियों और रक्त वाहिका को मजबूत बनाने के लिए बहुत प्रभावी तकनीकों और युक्तियों को शामिल किया जाएगा और इन समस्याओं को दूर करने के लिए दिमाग को भी शक्तिशाली बनाया जाएगा। अगर ईमानदारी से किया जाए तो निश्चित रूप से सफलता प्राप्त करने के लिए यह दोहरा दृष्टिकोण बहुत कामयाब है। अगर इन दोनों में से कोई भी छूटता है, तो सफलता प्राप्त नहीं की जा सकती है। प्रतिभागियों की प्रगति के आंकलन के लिए एक महीने के बाद पुन: जांच सत्र होगा।

एक मामूली शुल्क रखा जाता है ताकि केवल गंभीर और वास्तविक पीड़ित ही इस बहुमूल्य उपचार सत्र में शामिल हों।

केवल पहले आओ पहले पाओ के आधार पर सीमित सीटें उपलब्ध हैं।

दिन १ : ३१ अक्टूबर २०२१ योगिक मंत्र उपचार

दिन २ : ०१ नवंबर २०२१ योगिक मंत्र उपचार

दिन ३: ०२ नवंबर २०२१ प्रश्नोत्तर सत्र

दिन 4 : 05 दिसंबर 2021 जाँच सत्र

Session Completed

Previous Post Next Post

3 thoughts on “4-day Yogic Healing For Manpower

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *